सामने वाली भाभी की चूत का कचूमर-3

Bhabhi ki choot ka kachumber-3

वो लगातार मोन कर रही थी और वो मुझे अपनी चुदाई के लिए ललकार रही थी और मुझसे कह रही थी उफफ्फ्फ्फ़ हाँ आह्ह्हह्ह और ज़ोर से चोदो अपनी रानी को अमित और ज़ोर से करो उईईईईईई वाह मज़ा आ गया. आज तुमने मुझे सुहागन का पूरा मज़ा दे दिया है. अब तो में और तुम अब हर रोज़ ही इस तरह से किया करो, हाँ फाड़ दो तुम आज अपनी रानी की चूत को, हाँ पूरा अंदर तक जाने दो तुम बड़े अच्छे से यह काम करते हो और तुम्हे इसमें बहुत कुछ आता है.

दोस्तों उसके मुँह से ऐसी बातें सुनकर मुझे बड़ा आशचर्य हुआ, लेकिन में फिर भी उसको करीब बीस मिनट तक लगातार धक्के देकर चोदता रहा और उसको चोदने के बाद जब में झड़ने वाला था तो मैंने अपना पूरा वीर्य उसकी चूत की गहराइयों में ही डाल दिया और वो एकदम संतुष्ट नजर आने लगी और फिर पूरी रात हम दोनों एक दूसरे के साथ ऐसे नंगे ही सो गए और सुबह करीब पांच बजे हम दोनों एक बार फिर से उठे और हमने बहुत जबरदस्त ठुकाई के मज़े लिए और फिर हम दोनों सो गए और करीब आठ बजे मेरी नींद खुल गई तो फिर हम दोनों जल्दी से फ्रेश होकर अपने अपने काम पर निकल गए, लेकिन जाने से पहले हमने शाम को एक दूसरे से दोबारा मिलना का वादा भी किया था और फिर उसी शाम को हमारी चुदाई का प्रोग्राम दोबारा से शुरू हो गया, जिसका हम दोनों ने बहुत मज़ा लिया.

दोस्तों उस रात को मैंने उसको बाथरूम में चलने का इशारा किया और वो उठाकर बाथरूम में आ गई और फिर में भी बाथरूम में चला गया अंदर जाकर मैंने उसको पीछे से कसकर पकड़कर उसके बूब्स को ज़ोर ज़ोर से दबाने सहलाने लगा तो उस दिन मैंने महसूस किया कि उसके बूब्स बहुत सख्त थे और उसने अपनी दोनों आँखे बंद कर ली और में उसके बूब्स को टी-शर्ट के ऊपर से ही दबाने लगा. फिर थोड़ी देर बाद मैंने अपने एक हाथ से उसकी कॅप्री को उतारकर उसकी चूत में अपनी एक उंगली को डाल दिया और में अपनी उंगली से उसकी चुदाई करने लगा और थोड़ी देर बाद मैंने उसके सारे कपड़े निकालकर उसको बिल्कुल नंगी कर दिया, जिसकी वजह से अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी हो चुकी थी.

मैंने अपनी पेंट की चेन को खोलकर अपना लंड बाहर निकाला तो वो मेरा लंड देखकर एक बार फिर से पागल हो गयी और एक हाथ से ज़ोर से मेरे लंड को उसने पकड़ लिया और वो अपने कोमल मुलायम हाथों से मेरे लंड को सहलाने लगी और बाद में नीचे बैठ गयी. अब वो मेरे लंड को कुतिया की तरह चूसने लगी और अपनी जीभ से वो मेरे लंड को चाट रही थी.

धीरे धीरे उसने मेरे लंड को अपने मुहं में लेना शुरू कर दिया और मेरा लंड बहुत सख्त और बड़ा था, इसलिए वो उसके मुहं में पूरा नहीं आ रहा था. फिर मैंने उसके सर के बाल पकड़कर एक ज़ोर का धक्का लगा दिया, जिसकी वजह से मेरा आधा लंड उसके मुहं में चला गया और उसकी आँखो से पानी बाहर निकल आया. फिर वो धीरे धीरे ज्यादा से ज्यादा मेरे लंड को अपने मुहं में लेकर चूसने लगी. फिर करीब 15-20 मिनट के बाद बहुत जमकर लंड को चुसवाने के बाद मैंने उसको अब घोड़ी बनने के लिए कहा और वो अपने दोनों पैरों को मोड़कर मेरे सामने घोड़ी बन गयी.

दोस्तों इस आसान में किसी भी औरत को चोदने में बहुत मज़ा आता है और में भी अब अपने घुटनों के बल बैठ गया और पीछे से अपना लंड मैंने उसकी चूत के मुहं पर लगाया और दोनों हाथों से उसके बूब्स को पकड़कर एक ज़ोर का धक्का लगाया तो उसके मुहं से चीख निकल गयी और में अपना लंड उसकी चूत में ऐसे ही डालकर उसके बूब्स को दबाता रहा और जब उसका दर्द थोड़ा सा कम हुआ तो में धीरे धीरे अपना लंड अंदर बाहर करने लगा.

यह कहानी आप uralstroygroup.ru में पढ़ रहें हैं।

अब वो धीरे से बोली आज तुम मेरी पूरी प्यास को बुझा दो आह्ह्ह्ह मज़ा आ गया पूरा अंदर तक जाने दो और ज़ोर से धक्का लगाओ, मेरी इस आग को ठंडा कर दो. अब मैंने उससे कहा कि आज तो में तुझे ऐसे जमकर चोदूंगा कि तू सारी उम्र मुझे और मेरे लंड की इस चुदाई को याद रखेगी. अब में उसको तेज तेज धक्के देकर चुदाई का मज़ा दे रहा था और में उसको ऐसे ही चोदे जा रहा था, लेकिन अब वो अपने पति को गालियाँ भी देने लगी थी, वो कह रही थी कि उसके पति के लंड में मेरे लंड जितना दम नहीं है वो थोड़ी ही देर बाद ठंडा हो जाता है और उसने मुझसे कहा कि तुम एक बार मुझे मेरे पति के सामने ही चोदो, कम से कम चुदाई कैसे करते है यह तो उसको पता चल जाएगा और इस तरह से में जोश में आकर उसको बहुत तेज रफ़्तार से धक्के देकर चोदे जा रहा था और वो बड़बड़ा रही थी.

दोस्तों सही में उसकी चूत का मज़ा मेरे लंड को जो आया ना वो किसी में नहीं था, मैंने करीब 35 मिनट तक उसकी चूत का कचूमर निकालने के बाद मैंने अपने वीर्य का फव्वारा उसकी गरम गरम चूत में डाल दिया और लंड को बाहर निकालकर उसके मुँह में दे दिया मेरा और उसका जो पानी मेरे लंड पर चिपका हुआ था. उसको वो आइस्क्रीम की तरह से अपनी जीभ से चाटने लगी और वो मेरी चुदाई से बहुत खुश पूरी तरह से संतुष्ट नजर आ रही थी.

दोस्तों उस रात को मैंने उसको तीन बार हर बार अलग अलग तरीके से चोदा और उसके बाद जब भी हमें मौका मिलता हम एक दूसरे में समा जाते. आज तक मैंने उसको कितनी बार चोदा है इसके बारे में मुझे भी याद नहीं है, लेकिन हाँ आज भी में उसे बड़े प्यार और मज़े से चोदता हूँ और वो भी खुश होकर मुझसे अपनी चुदाई करवाती है और में बहुत मज़े लेकर उनकी चुदाई करता हूँ.



"sexy story written in hindi""indian sex srories""new sex story in hindi""bhabhi ki chuchi""sexy khaniya""hot sexy bhabhi""chodai k kahani""hindi sx stories""new desi sex stories"indiansexkahani"www kamukta sex com""chachi sex story""hot sex stories""bhabhi ki kahani with photo""hot sexy stories""sex khani""indian sex stories""sex stories""sex hot story""uncle sex stories""hindi sexy story with image"indiporn"hindi xxx stories""sexi hot kahani""hindi sex stroy""chudai kahani""hot hindi store""erotic hindi stories""indian sex story""kuwari chut story""sex kahani""sexstory in hindi""fucking story in hindi""indian hot stories hindi""sex hindi stori""doctor sex stories""kamuta story""kamukta storis""behen ki chudai""sex story""hindi sax satori""hindi sex""hindi chudai photo""imdian sex stories""sex sexy story""indian bus sex stories""hindi sex story hindi me"hindipornstories"sex stories with images""sax stori""sexi khaniy""maa ki chudai hindi""बहन की चुदाई""indian hindi sex stories""hindi saxy story com""free hindi sexy kahaniya""kajol ki nangi tasveer""chodan .com""sexy hindi kahaniya""boor ki chudai""oral sex in hindi""baap beti sex stories""maa chudai story""sex stories hot""hot nd sexy story""indian bhabhi ki chudai kahani""sex story""saxy story""hindi adult story""chudai bhabhi ki""antarvasna sex stories""biwi ki chut""chodna story""hot hindi sex story""kaumkta com""aunty ki chut story""real hindi sex story""long hindi sex story""kammukta story""bus sex stories"