भाई की शादी में अंजली को चोदा

Bhai ki shadi me anjali ko choda

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम राहुल है और में अब जो स्टोरी में आपके लिए लेकर आया हूँ, वो बिल्कुल सच्ची है. मेरे दूर के एक अंकल के लड़के की शादी थी और में उस वक़्त अजमेर में था, में अजमेर से निकला ही था कि मेरी कज़िन बहन (मेरे अंकल की बेटी) का फोन आया कि उसकी एक दोस्त है अंजली शर्मा जो किशनगढ़ में रहती है तो उसे लेते हुए आना है.

अब में आपको अंजली के बारे में बता दूँ, वो दिखने में बहुत सेक्सी है और उसका फिगर साईज 34-30-34 है, उसको देखकर तो किसी का भी लंड खड़ा हो जायेगा. उसकी स्माईल तो इतनी प्यारी है कि पूछो ही मत, जैसे ही मैंने सुना कि अंजली को मुझे पिक करना है, मेरे तो जैसे मज़े ही हो गये. में अंजली से एक दो बार ही मिला था और हमारी सिर्फ़ हाय हैल्लो ही हुई थी.

फिर मैंने अंजली को उसके घर से पिक किया और हम शादी के लिए रवाना हो गये, शादी फागी ज़िले में थी तो हमें 4 घंटे लगने वाले थे. फिर मैंने और उसने बातें करना स्टार्ट कर दी थी और पता ही नहीं चला कि कब हमारी ऐसी पट गयी, जैसे हम दोनों बेस्ट दोस्त हो. अब हमें पता ही नहीं चला कि कब फागी आ गया?

हम सगाई वाले दिन ही पहुंचे थे और शादी अगले दिन थी, उसने सगाई वाले दिन टाईट टी-शर्ट और जीन्स पहन रखी थी और उसकी गांड देखकर तो ऐसा लग रहा था कि अभी ही उसकी गांड मार लूँ. फिर हमने सगाई में बहुत डांस किया, मेरा मतलब साथ में डांस किया. फिर मेरे मामा की लड़की को शक हुआ तो उसने हम दोनों को एक साथ बैठाकर पूछा कि क्या हम दोनों एक दूसरे के बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड बनेगें? तो मैंने तो फटाफट हाँ कर दिया, लेकिन अंजली कुछ नहीं बोली वो सिर्फ़ शरमा रही थी.

अब रात बहुत हो चुकी तो हम सब सोने लगे, घर में इतने मेहमान थे कि मुझे सोने की कही जगह ही नहीं मिल रही थी तो में छत वाले रूम में चला गया. अब में वहाँ गया तो पता चला कि मेरी कज़िन और अंजली वहाँ बातें कर रही थी, अब वो दोनों मुझे देखकर चुप हो गयी और पूछने लगी कि क्या हुआ? अंजली के बिना नीचे मन नहीं लगा क्या?

मैंने कहा कि नीचे जगह नहीं है, इसलिए में ऊपर सोने आ गया. तभी मेरी बहन ने कहा कि आ जा यहाँ बहुत जगह है. फिर में अंजली और मेरी बहन एक साथ लेट गया, अब अंजली मेरी बगल में लेटी थी, क्या बताऊँ दोस्तों उसकी बॉडी से क्या खुशबू आ रही थी? अब मेरी तो नींद ही उड़ गयी थी. अब वो मुझसे चिपककर सो रही थी. फिर में भी मज़े लेने लगा, उसने जब नाईटी पहन रखी थी. फिर मैंने उसकी नाईटी के बटन खोल दिए और धीरे-धीरे उसके बूब्स को मसलने लगा, तभी अंजली थोड़ा सा हिली तो में रुक गया.

फिर अंजली ने खुद ही मेरा हाथ अपने बूब्स पर रख लिया और अब में उसके बूब्स को मसल रहा था, क्या मखमल जैसे बूब्स थे? फिर मैंने उसकी नाईटी ऊपर की और पेंटी में हाथ डाल दिया. फिर वो मेरे पजामे के ऊपर से ही मेरा लंड मसलने लगी. अब मेरा लंड एकदम टाईट हो गया था, अब मैंने एक चादर ली और हम दोनों ने चादर ओढ़ ली. फिर मैंने उससे कहा कि मुझे चूत में लंड डालना है तो उसने मना कर दिया और बोली कि मेरी बहन भी यहीं सो रही है.

फिर मैंने कहा कि अब क्या करें? तो उसने मेरा पजामा थोड़ा नीचे किया और फिर मेरी अंडवियर नीचे करके अपने हाथ से मेरा लंड हिलाने लगी. अब में भी उसकी चूत में मेरी उंगली अन्दर बाहर कर रहा था और अब हम दोनों एक दूसरे को किस कर रहे थे, क्या किस था? यार मज़ा ही आ गया. अब हम किस भी कर रहे थे और में उसकी चूत में उंगली कर रहा था और वो मेरा लंड अपने हाथ से हिला रही थी, ऐसा चलता रहा और हम दोनों एक साथ ही झड़ गये. फिर हम लिपट कर सो गये, जैसे कोई पति पत्नी सोते है.

फिर सुबह मेरी बहन ने मुझे उठाया और कहा कि जल्दी से उठो कोई भी ऊपर आ जायेगा, ऐसे चिपके मत रहो. फिर हम दोनों उठे और तैयार होने चले गये, अब में पूरे दिन अंजली का ध्यान रख रहा था और वो भी मेरा ध्यान रख रही थी, अब ऐसा लग रहा था कि हम पति पत्नी है.

फिर शाम को हम सब बारात के लिए तैयार होने लगे, उसने पिंक कलर की साड़ी पहनी थी, वो क्या क़यामत लग रही थी? और मैंने सफ़ेद शर्ट और ब्लेक ट्राउज़र पहनी थी. फिर हम दोनों ने एक साथ फ़ोटो खींचवाई तो मेरे जितने भी कज़िन थे बोलने लगे कि क्या जोड़ी है? अब सबको पता चल गया था कि मेरे और अंजली के बीच कुछ चल रहा है. फिर हम सब बारात में गये और डांस करने लगे. मैंने और अंजली ने भी साथ में डांस किया और अब मेरे सारे कज़िन हमारे मज़े लेने लगे थे. फिर हम शादी वाली जगह पर पहुंचे और शादी की सब रस्म हो गयी और फिर हम सबने दूल्हा दुल्हन के साथ खाना खाया और मंडप में बैठ गये.

अब सारी रस्में पूरी हो रही थी, तभी घर की सारी औरते घर जाने लगी, तो मुझे सबको छोड़ कर आना पड़ा. अब अंजली भी हमारे साथ थी, क्योंकि उसे ड्रेस चेंज करनी थी. अब हम गाड़ी में रवाना हुए और घर आ गये. अब अंजली ऊपर वाले रूम में चली गयी और ड्रेस चेंज करने लगी, तभी में भी वहाँ चेंज करने आ गया. मुझे नहीं पता था कि अंजली ऊपर ही है और उसने दरवाजा भी बंद नहीं किया था. अब वो ब्रा और पेंटी में थी और में पूरे कपड़ो में था.

फिर मैंने कुछ नहीं सोचा और उसको गले लगा लिया. फिर वो बोली कि कोई भी आ जायेगा. तभी मैंने कहा कि रुको में ड्रेस चेंज करके नीचे जाता हूँ और बाहर निकल जाता हूँ. फिर में पीछे वाले रास्ते से घर में आ जाऊंगा. फिर मैंने कार निकाली और चला गया, क्योंकि सब औरतें तो घर पर ही रुकने वाली थी. फिर मैंने कार आगे जाकर रोक दी और छुपके से पीछे वाले दरवाजे से ऊपर चला गया, जहाँ अंजली मेरा इंतज़ार कर रही थी.

फिर मेरे रूम में आते ही अंजली ने दरवाजा लॉक कर लिया, अब वो नाईट ड्रेस में थी. फिर हमने किस करना स्टार्ट किया, कभी गर्दन पर, तो कभी होठों पर, तो कभी आँखों पर, तो कभी कहाँ, कभी कहाँ. फिर थोड़ी देर तक ऐसा ही चलता रहा. फिर हम बेड पर लेट गये, अब में उसके ऊपर आ गया और उसके बूब्स दबाने लगा. फिर मैंने उसकी नाईट शर्ट खोल दी, उसने अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी. क्या बूब्स थे उसके? एकदम मोटे और टाईट. अब में उसके बूब्स चूसने लगा और निपल्स को काटने लगा.

अब में उसके बूब्स को दबा भी रहा था, वो तो ज़ोर से आही आही आही भरने लगी थी. फिर मैंने उसके बूब्स पर जोर से काट दिया तो अब उसे दर्द हो रहा था, लेकिन उसे मज़ा भी आ रहा था. फिर उसने मेरी शर्ट उतार दी और मुझे किस करने लगी. फिर उसने मेरी ट्राउज़र भी उतार दी और मेरे लंड को अंडरवियर के ऊपर से ही मसलने लगी. अब उसने मेरी अंडरवियर पूरी उतार दी और मेरा लंड चूसने लगी.

यह कहानी आप uralstroygroup.ru में पढ़ रहें हैं।

अब वो मेरा लंड तो ऐसे चूस रही थी जैसे कोई लॉलीपोप हो, वो मेरा लंड मस्त तरह से चूस रही थी. फिर 15-20 मिनट तक वो मेरा लंड चूसती रही और में उसके मुँह में ही झड़ गया और उसने मेरा सारा स्पर्म पी लिया.

फिर मैंने उसे लेटा दिया और उसका पजामा उतार दिया, उसने अन्दर पेंटी भी नहीं पहनी थी. अब में उसकी चूत को चाटने लगा तो अब वो मचलने लगी और अब वो मेरे सर को पकड़कर अपनी चूत की तरफ दबा रही थी. अब मैंने उसकी चूत चाट-चाटकर लाल कर दी थी.

फिर आखरी में वो झड़ गयी और मैंने उसका पूरा रस पी लिया. अब हम एक दूसरे को प्यार कर रहे थे, अब मेरा लंड पूरा खड़ा हो गया था. फिर अब मैंने उसकी टांगे फैलाई और में मेरे लंड का टोपा उसकी चूत में डालने लगा, अब उसे थोड़ा दर्द होने लगा था तो उसने कहा कि वो वर्जिन है. फिर मैंने कहा कि ठीक है में धीरे धीरे करूँगा. फिर मैंने वापस से लंड डालने की कोशिश की तो मेरा लंड और उसकी चूत में अन्दर चला गया.

अब तो उसे बहुत दर्द हो रहा था तो वो बोली कि उसे जलन हो रही है. फिर मैंने अपना लंड वापस निकाला और उसे शांत होने दिया. फिर मैंने मेरे लंड को वापस डाला और ज़ोर से दबाया तो अब मेरा लंड पूरा चूत में चला गया. अब तो वो रोने ही लग गयी. अब हम तेज आवाज़ नहीं कर सकते थे.

फिर मैंने उसे किस किया और लंड चूत में डालकर रुक गया. फिर थोड़ी देर में वो नॉर्मल हुई तो मैंने लंड वापस निकाला तो मैंने देखा कि मेरे लंड पर खून लगा हुआ है. फिर मैंने मेरे लंड को और उसकी चूत के पास ही रखे कपड़े से साफ किया और वापस लंड डालने लगा. अब उसे थोड़ा कम दर्द हो रहा था.

फिर मैंने धीरे-धीरे उसकी चुदाई स्टार्ट की, अब वो मौन करने लगी, आ आ आ आ करने लगी. अब हम धीरे-धीरे आहें भर रहे थे और वो तो एकदम मस्त हो गयी थी. अब मैंने अपनी स्पीड तेज कर दी और वो भी अपनी गांड उछाल-उछाल कर मेरा साथ देने लगी. अब तो चुदाई का मज़ा और दुगुना हो गया था.

अब हम चुदाई कर रहे थे और मजा भी आ रहा था, बिना कंडोम के चुदाई का मज़ा तो अलग ही होता है, चूत की जो अंदर की मसल होती है, वो इतनी सॉफ्ट होती है कि लंड को मज़ा आ जाता है. फिर वो धीरे से बोलने लगी कि राहुल और करो प्लीज करो, करते रहो और तेज करो, मुझे प्यार करो, अब से में तुम्हारी पत्नी हूँ प्लीज मुझे प्यार दो, प्यार करो मुझे आई लव यू, आज के लिए थैंक्स और करो ना आ आ आहह आ आ. अब उसकी बातें सुनकर में और ज़ोर से करने लगा था. फिर वो अकड़ने लगी तो मैंने भी अपनी स्पीड और तेज कर दी. फिर हम साथ में झड़ गये और अब मैंने पूरा पानी उसके अंदर ही छोड़ दिया.

अब हम दोनों बहुत तक गये थे. फिर हम एक दूसरे के ऊपर लेटे रहे. फिर हमने कपड़े पहने और में वापस पीछे के दरवाजे से चला गया. फिर में वापस से अंजली को लेने घर आया तो अब अंजली से अच्छे से चला भी नहीं जा रहा था, अब मुझे थोड़ा बुरा लगा, लेकिन अब अंजली बहुत खुश थी. फिर हम वापस शादी वाली जगह पहुंचे तो मेरी बहन ने पूछा कि अंजली को क्या हुआ?

मैंने कहा कि वो गिर गयी थी, इसलिए ठीक से चल नहीं पा रही है. फिर हमने फेरों के टाईम बहुत मस्ती की. फिर अगले दिन हम सब निकल गये. में वापस अंजली को किशनगढ़ छोड़ने गया, लेकिन हम रास्ते में सेक्स नहीं कर पाए, क्योंकि अंजली को नीचे बहुत दर्द हो रहा था. हम आज भी एक दूसरे के संपर्क में है, लेकिन अब तो उसकी शादी हो चुकी है.



"sex story with pic""sexy storoes""hot hindi sexy story""saas ki chudai""hindi sex stories with pics""mast sex kahani""सेक्सी कहानी""sax storey hindi""devar bhabhi sexy kahani""अंतरवासना कथा""suhagraat ki chudai ki kahani""group sexy story""ma ki chudai"hotsexstory"porn kahaniya""lesbian sex story""sexy storis in hindi""चुदाई की कहानियां""hindi sexy storis""hindi sex story baap beti""hindi sexi stories""simran sex story""sucksex stories"sexstory"hindi sexy story hindi sexy story""hot sex story in hindi""hindi sex story with photo""indian sex storie""kamukta www""chachi ko jamkar choda""indian sex hindi""grup sex""incest sex stories in hindi""sexy hindi sex""chachi bhatije ki chudai ki kahani"kamuktaindiansexstorirs"devar bhabhi sex stories"freesexstory"mastram kahani"kamukat"sagi beti ki chudai"mamikochoda"adult sex kahani""indian sex stories incest""www.kamukta com"newsexstory"pussy licking stories""sax stori hindi""indiam sex stories""ssex story""हिनदी सेकस कहानी""burchodi kahani""anni sex story""indian swx stories""hindi sex s""हॉट स्टोरी इन हिंदी""indian mom sex story""chodna story""hot sex story hindi""odiya sex""bahen ki chudai ki khani"grupsex"hot story with photo in hindi""hundi sexy story""www kamukta sex com""hindi sexy storiea""hindi sex kahani""xxx stories indian""desi sexy story""baap beti ki sexy kahani hindi mai""hindi sex kahani""hindisex stories"