गुलामी के साथ माँ की चुदाई

Gulami ke saath maa ki chudai

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम संतोष है और आज में आपको अपनी माँ की चुदाई की कहानी सुनाने जा रहा हूँ. मेरी माँ का नाम रजनी है और वो बहुत ही सुंदर औरत है. मेरी उम्र 18 साल है और मेरी माँ अभी 33 साल की है, में इंजीनियरिंग की पढाई कर रहा हूँ और मेरे पापा बिज़नेस के सिलसिले में बाहर ही रहते है. में अक्सर सुबह जल्दी उठकर पढ़ता हूँ और मेरी माँ देर रात से सोती है.

मेरा कमरा बेसमेंट में है और में अधिकतर बेसमेंट में ही रहता हूँ. एक दिन में रात को प्रॉजेक्ट पर काम कर रहा था तो में पानी पीने ऊपर आया, तो माँ के रूम की लाईट जल रही थी, तो में रूम में चला गया. मैंने देखा तो माँ टी.वी पर एडल्ट चैनेल देख रही थी और बिल्कुल नंगी बिस्तर पर लेटी अपनी चूत में उंगलियाँ कर रही थी.

में वहाँ 5 मिनट तक खड़ा रहा और मम्मी के गोरे बदन को देखता रहा. मम्मी के बूब्स ऐसे थे कि उनसे दूध पीने का मन कर रहा था, मम्मी की पतली कमर और सबसे सुंदर मम्मी की टांगे. अब मेरा लंड खड़ा हो गया था, लेकिन मैंने कंट्रोल किया और रूम की लाईट ऑन कर दी. मम्मी ने एकदम से मेरी तरफ देखकर टी.वी ऑफ कर दी, लेकिन उनका गोरा बदन लाईट में चमक रहा था. मम्मी के पास अपना गोरा बदन ढकने के लिए कुछ नहीं था तो मम्मी ने मुझे वहाँ से चले जाने के लिए कहा.

अब मेरा हाथ मेरे लंड पर था तो मम्मी मेरे खड़े लंड को देखकर मुस्कुरा दी और देखते ही देखते मेरा रस निकल गया. अब मम्मी ज़ोर से हँसने लगी थी, तो में वहाँ से चला गया. अगले दिन मम्मी स्कूल गयी तो आते समय मम्मी की स्कूटी पंचर हो गयी और मम्मी को 2 किलोमीटर पैदल स्कूटी लानी पड़ी तो इस कारण से मम्मी की टाँगे बहुत दर्द कर रही थी और मम्मी घर आकर सो गयी. उसी दिन रात को पापा अपने एक बॉस के साथ आ गये, तो मम्मी ने मुझे रात में जागने को कहा.

रात को करीब 10 बजे में ऊपर आया तो मैंने देखा कि मम्मी, पापा और बॉस तीनों नंगे है और पापा मम्मी के पैर दबा रहे है और मम्मी और पापा के बॉस आपस में किस कर रहे है, तो में वहीं खड़ा रहा. थोड़ी देर के बाद मम्मी ने पापा को बिस्तर से उतरने को कहा और अपने पैर बिस्तर से नीचे कर लिए और पापा मम्मी के पैर चाटने लगे.

अब मम्मी ने अपने पैर पापा के मुँह में डाल दिए थे और पापा मम्मी के पैर चाटते रहे और बॉस मम्मी के बूब्स चूस रहे थे. मम्मी ने पापा से पानी लाने को कहा तो पापा पानी लेकर आए और मम्मी के पैर धोकर वो पानी पीने लगे. अब मम्मी अपने एक पैर से पापा का लंड हिला रही थी और दूसरा पैर पापा के सिर पर रखा था.

15 मिनट तक पापा मम्मी के पैर चाटते रहे और बॉस मम्मी की चूत में उंगली करते रहे. मम्मी ने पापा को ड्रिंक बनाने को कहा और पापा ड्रिंक बनाने के लिए चले गये. अब बॉस ने अपना लंड मम्मी की चूत में डाल दिया और 15 मिनट के बाद जब पापा ड्रिंक बनाकर वापस आए, तो तब तक बॉस ने अपना रस मम्मी की चूत में डाल दिया था. वो तीनों ड्रिंक पीने लगे, अब बॉस और मम्मी तो बेड के ऊपर बैठ थे और पापा मम्मी के पैरों में बैठे थे और मम्मी ने अपने पैर पापा के सिर पर रखे थे.

ड्रिंक पीने के बाद मम्मी और बॉस तो सो गये और पापा मम्मी के पैर दबाने लगे और उन्हें चाटने लगे. अगले दिन सुबह जब पापा वापस जा रहे थे तो मैंने देखा कि पापा तो मम्मी के पैर छू रहे है और मम्मी और बॉस किस कर रहे है. पापा के जाने के बाद मम्मी मेरे पास आई और बोली कि तेरे पापा मेरे गुलाम है और अगर तू भी मेरा गुलाम बनेगा तो तुझे भी सब कुछ मिलेगा. मम्मी चली गयी और मेरा दिमाग खराब हो गया.

यह कहानी आप uralstroygroup.ru में पढ़ रहें हैं।

रात को मम्मी मेरे कमरे में आई और उनके हाथ में तेल की शीशी थी. मम्मी आकर मेरे सामने कुर्सी पर बैठ गयी और अपनी टांगे मेरे ऊपर रख दी और अपने पैरो से मेरे लंड को हिलाने लगी. मम्मी ने मुझे अपनी टांगो की मालिश करने को कहा और बेड पर लेट गयी. में मम्मी की गोरी-गोरी टाँगो को हाथ लगाने लगा और अब मेरे हाथ काँप रहे थे.

मम्मी ने अपना गाउन उतार दिया. अब मुझे मम्मी की टाँगे साफ-साफ दिख रही थी. अब मम्मी ने अपनी एक टाँग मेरे कंघे के ऊपर रख दी थी, जिससे मुझे मम्मी की चूत भी साफ-साफ दिखने लगी थी. अब मेरा लंड खड़ा हो गया था और मम्मी ने अपने दूसरे पैर से मेरे लंड को दबाकर रखा था और पैरो की मालिश करने को कहा, तो में मालिश करने लगा.

मम्मी ने अपना पैर मेरी नाक पर रखा, उनके पैरो की खुशबू इतनी अच्छी थी जैसे गुलाब की खुशबू हो और में मम्मी के पैर चाटने लगा और उनके पैर के अंगूठे को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा और उनके पैरो की उंगलियाँ चूसने लगा. अब में पूरी तरह से मम्मी का गुलाम बन चुका था. अब धीरे-धीरे में मम्मी की चूत को चाटने लगा था और उनके बूब्स दबाने लगा था.

में अपने कपड़े उतारकर मम्मी के साथ सेक्स करने को तैयार हो गया, लेकिन मम्मी ने मुझे पानी लाने को कहा, तो में पानी लेकर आया. तो मम्मी ने इशारा किया, तो में समझ गया और मम्मी के पैर धोकर वो पानी पीने लगा. मम्मी ने मुझसे 1 घंटे तक अपनी टांगे दबवाई और अपने पैर चटवाए और उसके बाद मुझे चोदने दिया. अब घर में में और पापा साथ मिलकर मम्मी की पूजा करते है और उनकी गुलामी करते है और मम्मी को चोदते है.



"bhai behan ki chudai""sexy kahaniya""indian sexy khaniya""saxy story""sex chat in hindi""ghar me chudai""chodan kahani""www kamukta stories""bade miya chote miya""adult story in hindi""devar bhabhi hindi sex story""indian sex hindi""office sex stories""hot hindi sex stories""www hindi sex setori com""garam bhabhi"hindisexystory"hindi sexy stories in hindi""sex story with photo""sexy story in hindi latest""suhagraat ki chudai ki kahani""www.kamuk katha.com""new sex hindi kahani""chudai in hindi""deshi kahani""my hindi sex story""kamukta hindi story""sexi sotri""cudai ki kahani""sex storys in hindi""kamukta com sex story""sex story in hindi real""sexy kahani with photo""mosi ki chudai""sexstory hindi""oriya sex stories""group chudai""latest hindi sex stories""school girl sex story""sxy kahani""hindi chudai kahania""sali ki mast chudai""latest sex stories"sexstories"hindi secy story""sexy story hind""www hot sexy story com""hot sexy stories""my hindi sex stories""real sex stories in hindi""hindisex stories""antarvasna big picture""saxy hinde store""bhai behn sex story""nangi bhabhi""hindi gay sex stories""gand ki chudai""adult sex story""behen ko choda"hindipornstories"chodan com""hindi sex storyes""hindi sexy stories""hindi sex story hindi me""rishton mein chudai""indian sex storis"mastkahaniyanewsexstorysexstories"indian sex storeis""real sex stories in hindi"kamukt"best sex story""hot sex story in hindi""sex story real""new real sex story in hindi"hotsexstoryhotsexstory.xyz"online sex stories""hindi hot store""chudai ka sukh"saxkhani"hot hindi sex story""jija sali sex story""behan ki chudayi""wife sex stories""hindisexy storys""sexcy hindi story""new chudai story""original sex story in hindi""cudai ki kahani"hindipornstories"garam chut""choot ka ras"