हनीमून -3

Honeymoon- 3

अब आगे:कुछ देर बाद हम दोनों ब्रेकफास्ट के लिए नीचे आ गए और चेयर पर बैठ गए.हमे आया देख कर कार्लो ने वेटर को इशारा किया और वो जल्दी से हमारी टेबल पर ब्रेकफास्ट ले आया. हम दोनों ने छक कर ब्रेकफास्ट किया.तभी हमारी और कार्लो आ गया उसने हम लोगों से आज के प्रोग्राम के लिए पूछा.मैं बोला- अभी हमने डिसाइड नहीं किया है कि क्या करना है.फिर रानी बोली- मुझको water फॉल देखने जाने का मन है.कार्लो ने रानी की उठी हुईं चूचियों को ललचाई नजर से देखते हुए बोला- अच्छा water फॉल देखने जाने का मन है. वो तो मेरे घर के करीब से बड़ा शानदार दिखता है. अगर आप दोनों जाने के लिए एकदम रेडी हों, तो मैं अभी व्यवस्था करवा देता हूँ.मेरी रानी ने एक मादक अंगड़ाई लेते हुए कार्लो की तरफ देखा और बोली- इससे अच्छी बात और क्या हो सकती है डियर कार्लो ने अपने लिए डियर सुना तो उसकी तो बांछें खिल गईं, उसने फॉल को लेकर बताना शुरू कर दिया कि टैक्सी से आप beech के ऊपर तक जा सकते हो.हम सभी की सहमति बनते ही कार्लो ने टैक्सी बुलवाने के लिए फोन कर दिया.शायद टैक्सी वाले ने दस बीस मिनट में आने के लिए कह दिया था जो कि कार्लो ने हमें बताया.

हम दोनों टैक्सी से beech की तरफ चलने के लिए चेंज करने के लिए रूम की तरफ चल दिए. कपड़े चेंज करने के बाद हम जाने के लिए नीचे आ गए. रानी ने बैग ले लिया था, जिसमें एक ड्रेस तैरने के मतलब से थी. हमें बताया गया था कि उधर तैरने के लिए भी मन बनाया जा सकता है.
Meri Chalu Biwi
मैंने देखा कि सब लोग रानी को ही देख रहे थे. क्योंकि रानी ने एक सिंगल पीस वाली काले रंग की स्पलिट ड्रेस पहनी हुई थी. ये ड्रेस कुछ इस तरह की होती है जिसमें उसके मम्मे कुछ ही सीमा तक अन्दर थे. बाकी की चूचियां तो लगभग पूरी की पूरी बाहर झाँक रही थीं.
साथ ही उसकी एक टांग तो ड्रेस के आधे खुले होने के कारण पूरी नंगी थी. रानी की ये ड्रेस नीचे से एक तरफ से पूरी ओपन थी, जिस वजह से रानी की एक टांग उसकी कमर तक पूरी नंगी दिख रही थी. जिस वजह से रानी की अन्दर से स्किन कलर की पेंटी दिख रही थी. चूंकि पैंटी स्किन कलर की थी, इसलिए पहली नजर में देखने वाले को उसकी पैंटी के होने का वजूद समझ ही नहीं आता था.देखने वाले ये समझने की कोशिश कर रहे थे कि रानी ने इस एक टांग से खुली वाली ड्रेस के नीचे पैंटी क्यों नहीं दिख रही है.

मतलब रानी की पैंटी स्किन कलर की वजह से दिख नहीं रही थी. मगर उसकी चुत के दीदार भी नहीं हो पा रहे थे. जब वो चलती, तो उसकी एक टांग पूरी नंगी होते हुए चुत वाले एरिया तक दिखने लगती.फिर जब हम टैक्सी में बैठे, तो ड्राइवर भी अन्य लोगों की तरह रानी की तरफ घूर रहा था. उसकी पहली नजर रानी के मस्त मम्मों पर टिक गई थी. जिससे उसकी आंखों में वासना का नशा साफ़ दिखने लगाथा.जब मैंने उससे चलने के लिए कहा, तो उसने कुछ ऐसा दिखाया जैसे उससे कोई फ़ालतू का काम करने के लिए कह दिया गया हो. मगर वो मन मसोस कर चल दिया.कुछ ही देर में हम beech पर पहुंच गए.उधर बड़ा ही शानदार नजारा था. हम दोनों ने टैक्सी से उतर कर देखा कि वहां पर कुछ ही टूरिस्ट थे.टैक्सी सारे दिन के लिए हमारे साथ रहने के लिए बुक की गई थी. इसलिए हम दोनों टैक्सी से निकल कर वहीं के नजारे देखते हुए टहलने लगे. हम दोनों उधर की खूबसूरती को देखने में मस्त हो गए कि समय का मालूम ही नहीं चला कि कब दोपहर गुजर गई और उधर टहलने वाले सभी टूरिस्ट भी चले गए.सारे टूरिस्ट इसलिए निकल गए थे क्योंकि वो जगह शहर से दूर थी और उधर समय से वापस जाने के बाद कोई साधन नहीं मिलता था.

मौसम अच्छा था. उधर तैरने के लिए बढ़िया स्थान था. हम दोनों ने स्विमिंग का मूड बनाया. नहाने के लिए हम दोनों ने अपने कपड़े उतार दिए. अब रानी बिकनी में थी.हम दोनों को वहां मस्ती करते हुए शाम हो गई. जब हम वापस जाने के लिए निकले, तो कुछ ही दूरी पर टैक्सी खराब हो गई.ड्राइवर बोला कि आप दूसरी टैक्सी ले लो … मेरी टैक्सी खराब हो गई.अब थोड़ी समस्या हो गई थी. वहां पर इस समय कोई टैक्सी नहीं आ जा रही थी.मैंने सोचा कि कार्लो को फोन लगाना चाहिए. मैं कार्लो को फोन लगाने ही वाला था कि हमको सामने से एक लाइट करीब आती सी लगी. ये एक छोटा सा सामान ढोने वाला utility type वाहन था, जो विपरीत दिशा में जा रहा था. उस वाहन के पास आने पर मैंने देखा कि ड्राइविंग सीट पर कार्लो ही बैठा था. वो आज कुछ जल्दी अपने घर वापस जा रहा था.रानी ने उसको देखा तो वो उससे कहने लगी- अच्छा हुआ कार्लो कि तुम मिल गए. हम लोग तुम्हें ही फोन करने वाले थे.

कार्लो ने रानी की चूचियों को अपनी आंखों से मसला और बताया- आज हमारी वेडिंग एनीवर्सेरी है इसलिए मैं जल्दी आ गया. अब आप लोग मिल गए हो, तो प्लीज़ मेरी ख़ुशी में शामिल होने के लिए मेरे घर चलिए.उसने हम दोनों को इन्वाइट किया. पहले तो मैंने मना कर दिया, फिर सोचा कि इधर काफी देर हो गई है. होटल तक पहुंचने में 12.00 बजे तक का टाइम हो जाएगा. इसलिए हम दोनों उसके साथ चल दिए.छोटा मालवाहक वाहन होने के वजह से हम तीनों आगे की सीट पर एक साथ बैठ गए रानी खिड़की की तरफ़ और मैं दोंनों के बिच में बइठ गया। कुछ दूर अचानक खिडकी का दरवजा खुला और रानी खिड़की से बाहर गिरने से बाल-बाल बची तब गाड़ी को साइड से रोककर रानी को बीच में बैठाया जगह कम होने के कारण रानी ठीक से बैठ नहीं पा रही थी कार्लो ने रानी को अपना एक पैर गेर बॉक्स दूसरी तरफ रखने के लिए बोला पहले रानी ने इस तरीके से बैठने से मना कर दिया लेकिन कुछ दूरी तय करने के बाद उसको अधिक परेशानी महसूस होने लगी तो मेरे कहने पर वह कार्लो के हिसाब से बैठ गई उस वाहन के गियर का हैंडल उसकी टांगों के बीच में आ गया.. और रानी कार्लो की तरफ अपनी एक टांग गियर के हैंडल को अपनी चुत के सामने लेकर बैठी हुई थी.इस समय रानी की चुत में गियर वाला हैंडल कुछ ऐसा लग रहा था, मानो हैंडल उसकी चुत में जाना चाहता हो.चूंकि सड़क भी माशाअल्लाह थी.

कभी ठीक आ जाती, तो कभी गड्डे आ जाते थे. कार्लो गियर बदलने के कारण बार बार रानी की टांगों के बीच में हाथ लगा कर उसकी चुत के पास के इलाके का जायजा ले रहा था. रानी भी अपनी एक बांह कार्लो के कंधों पर रख कर उसे अपनी चूचियों की मुलामियत का मजा दे रही थी. जोकि गड्डे में गाड़ी के आ जाने से उसकी सिसकारी के रूप में निकल रहे थे.कार्लो के घर का रास्ता तो एकदम कच्चा था जिस वजह से उसकी ये टैक्सी नुमा गाड़ी बड़े झटके मार रही थी. तभी अचानक रानी एक झटके के कारण आगे को हो गई और गियर वाला हैंडल उसकी चुत में कुछ ज्यादा ही जोर से टच कर गया. रानी का एकदम से बैलेंस बिगड़ गया और उसका एक हाथ मेरे हाथ के ऊपर और दूसरा हाथ कार्लो के लंड पर चला गया. ये हाथ रानी ने किसी भी कारण से लगाया हो, मगर उसको पता चल गया था कि कार्लो का लंड मुझसे काफी बड़ा है.एक पल का झटका लेने के बाद कार्लो ने रानी की चूचियों को पकड़ते हुए उसे सहारा दिया. जिससे कार्लो और रानी की आंखें एक दूसरे को तौलने लगीं. रानी को कार्लो का लंड भा गया था और कार्लो तो पहले से ही रानी की चुत फाड़ने के चक्कर में था..कुछ देर बाद हम दोनों उसके घर आ गए. उधर कार्लो की वाइफ संयोग से उसका नाम भी रानी था. हमारे पहुंचने के बाद उसके एक दो पड़ोसी भी उसके घर में आ गए थे.वो सभी हम दोनों को देख कर खुश हो गए थे.

कार्लो की वाइफ भी एक शॉर्ट ड्रेस में थी. शायद वो भी खुलापन ही पसंद करती थी. कुछ देर बाद प्रोग्राम शुरू होने वाला था हम अपने साथ कपड़े नहीं लाए हैं इसलिए कार्लो ने अपनी वाइफ से कहा- इनको कमरे में ले जाओ और इनके कपड़े चेंज करवा दो.उसकी वाइफ रानी ने हमसे बोला कि चलिए आप दोनों चेंज कर लीजिएगा. उसकी निगाह मेरी तरफ कुछ ज्यादा ही थी..फिर वो बोली- आप आओ.वो हम दोनों को अपने रूम में ले गई. वहां उसकी अलमारी में कुछ कपड़े थे, जो साइज़ में कुछ ढीले हो रहे थे.मुझे और मेरी बीवी रानी को ये कपड़े ठीक तो नहीं पर किसी तरह आ गए थे. रानी को कुछ कम फ़िट हुए थे.इसलिए कार्लो की वाइफ ने रानी को एक दूसरी वन पीस ड्रेस थी.. इन कपड़ों में रानी का जिस्म बहुत ही कामुक दिख रहा था.इसके बाद हम तीनों नीचे पार्टी में आ गए. मेरी वाइफ रानी को देखता ही रह गया.कार्लो की वाइफ बोली- ये मेरी फर्स्ट नाइट वाली ड्रेस है. इनको यही फिट आई.फिर इसके बाद केक काटा गया. पड़ोसी गिफ्ट देने लगे. लेकिन हम लोग तो खाली हाथ थे. मैंने उन दोनों को सॉरी बोला.इस पर कार्लो हंस दिया. उसके साथ में मेरी वाली रानी भी हंस दी.मुझे कार्लो कि हंसी में कुछ अलग सा लगा मगर मैं कुछ नहीं बोला.उसके बाद सभी ने डिनर किया.

डिनर के बाद सभी मेहमान चले गए और कार्लो ने दरवाजा बंद कर दिया. हम चारों काफी समय तक बात करते रहे कार्लो दम्पति की वेडिंग एनिवर्सरी के कारण हम दोनों की बीवियां रूम सजाने के लिए था. रूम सजाने के बाद दोनों नीचे आ गई फिर हम चारों साथ में बैठकर बीयर गटकने लगे उनके कमरे के साथ वाला कमरा हम दोनों के लिए था.दोनों रानी ऊपर अपने अपने रूम में चली गईं. फिर मैंने और कार्लो ने अच्छी खासी ड्रिंक की और अपने अपने रूम में आ गए. हम दोनों नशे में पूरी तरह से टुन्न थे.मेरे वाले रूम में लाइट ऑफ थी, मैं नशे में टुन्न था. मैंने सोचा कि रानी मुझसे मज़ाक कर रही है.मैंने उसे आवाज दी तो वो बिना कुछ बोले मेरे सीने से लग गई. मैंने उसके शरीर को टटोलना शुरू किया और जल्दी ही हम दोनों चुदाई में लग गए.मुझे नशे में चुदाई करने में बड़ा मजा आता है. मैंने लंड को खूब कसरत कराई और रानी की चुत में ही झड़ कर ढेर हो गया. मेरी पार्टनर भी सो गई.मुझे इस समय नींद नहीं आ रही थी. मैंने एक सिगरेट सुलगाई और कमरे से बाहर आ गया.

मैंने बगल वाले कमरे की खिड़की में झाँकने की कोशिश की. उस रूम में लाइट ऑफ थी.. लेकिन बाहर कमपाउंड की लाइट के कारण रोशनी आ रही थी. मैंने देखा कि कार्लो और उसकी बीवी नंगे हैं. कार्लो उसकी चुत को कुत्तों की तरह चाट रहा था. कभी वो अपनी जीभ को चुत के अन्दर कर देता तो कभी मुँह से पूरी चुत चूस कर लाल कर देता.
मुझे कार्लो और उसकी बीवी रानी की चुदाई के सीन देखने में मजा आने लगा.कोई दस मिनट तक चुत चूसने के बाद रानी ने कार्लो का लंड चूसना शुरू कर दिया. कार्लो का लंड काफी बड़ा और मोटा था, जिस वजह से उसकी बीवी के मुँह में लंड आधा ही जा पा रहा था.तभी कार्लो की नशे में लड़खड़ाती हुई आवाज आई. उसने बोला- आह तुम अपने मुँह में लंड पूरा अन्दर क्यों नहीं ले रही हो? इस पर उसने कोई जबाव न देते हुए लंड को चुस्ती रही और 15 मिनट तक चूसने के बाद चुत की तरफ उंगली करके इशारा किया कि अब चुत चुदाई करो. कार्लो समझ गया कि ये चुत चोदने के लिए कह रही है.अब कार्लो ने अपनी बीवी की टांगें फैलाईं और अपने लंड को उसकी चुत में लगा कर धक्का दिया. मैंने देखा कि उसकी बीवी की चुत में कार्लो का लंड जा ही नहीं रहा था.

उसकी बीवी की दबी और घुटी हुई कराहें निकल रही थीं. कार्लो इस समय एकदम टुन्न था उसने इन कराहों पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया बस लगा रहा.फिर अचानक से कार्लो ने एक ज़ोर का झटका मार दिया. इससे उसका लंड अन्दर घुसता चला गया.नीचे दबी रानी चीख उठी और उसकी चुत से खून आ गया. उधर कार्लो किसी दानवी ताकत के अंदाज में रानी की चुत में लंड अन्दर बाहर करने लगा.कुछ देर बाद रानी और कार्लो की चुदाई ने जोर पकड़ लिया. कार्लो रानी की चुत को तेज़ी से चोदने लगा. पूरे रूम में फकक्च फॅक की आवाज बाहर तक आ रही थी.इसी के साथ रानी की भी ‘उउउह आआ आहह फक मी फक मी..’ आवाज आई, तो मुझे कुछ अलग सा लगा. मैं सोचने लगा कि ये आवाज मेरी वाइफ जैसी है. ये बात दिमाग में आते ही मैं अपने रूम में वापस गया. लाइट ऑन की, तो देखा जिसको मैंने चोदा था, वो तो कार्लो की वाइफ थी. मैं समझ गया कि जो कार्लो के काले मोटे लंड के नीचे चुद रही थी, वो मेरी वाइफ है.तब तक कार्लो की वाइफ जाग गई और उसने मुझसे कहा कि मैं अपने हज़्बेंड को गिफ्ट देना चाहती थी, इसलिए मैंने रानी को कार्लो के रूम में भेज दिया और मैं खुद यहां आ गई.

मैंने कुछ नहीं कहा और वापस कार्लो के रूम की तरफ गया. मैंने देखा कार्लो का लंड जो मेरी बीवी की चुत में पूरा घुसा हुआ था. मेरी बीवी अपने होश में कार्लो के मोटे लंड का मजा ले रही थी.मैं समझ गया कि मेरी बीवी को कार्लो का मोटा लंड पसंद आ गया था, इसलिए उसको कार्लो के लंड से चुदने दीया.कोई एक घंटे की चुदाई के बाद वो दोनों नंगे ही लिपट कर सो गए. मैं भी अपने कमरे में जाकर कार्लो की बीवी के साथ सो गया.

फिर सुबह जब मैं उठा, तो मैंने देखा कि मेरी बीवी रानी मेरे साथ लेटी थी. मैंने उसे अपनी बांहों में लेकर प्यार किया और उसको जगाते हुए चलने के लिए कहा. कुछ ही देर में हम दोनों होटल जाने के लिए रेडी हो गए.मैंने जाते समय कार्लो को गिफ्ट न दे पाने के लिए सॉरी बोला. पर मेरी बीवी रानी बोली- मैंने रात में कार्लो को गिफ्ट दे दिया था.
मैं समझ गया पर कार्लो नहीं समझ सका था. क्योंकि उसको भारी नशे में होने के कारण पता ही नहीं चल सका था कि रात को जिसको उसने चोदा था, वो उसकी वाइफ नहीं थी.हालांकि बाद में हम चारों के बीच ये बात खुल गई थी,



"sexy stoery""sexy indian stories""हिनदी सेकस कहानी""bahan ki chut mari"pornstory"hindi sex khaneya""chachi hindi sex story""sex in hostel""hindi sexy kahani hindi mai""stories sex""phone sex story in hindi""saxy kahni""train sex stories""sex story with""brother sister sex stories""sexy storis in hindi""hindi font sex story""saali ki chudaai""sax khani hindi""hot sexy stories""gand mari story""sexy khani""sexi story""chodo story""sexy storey in hindi""maa sexy story""wife sex story""sasur ne choda""suhagrat ki kahani""hindi sec story""new sex story""hindi chudai ki kahani""sex kahani hot""xossip hindi""dost ki wife ko choda""anni sex story""www sex story co""sex ki gandi kahani""पोर्न स्टोरीज""indian sex storoes""chudai ki story hindi me""hindi font sex story""hot bhabhi stories""चुदाई की कहानियां""hot sexy stories""teacher ko choda""first time sex story in hindi""kamuk kahaniya""dirty sex stories""mausi ki bra""train sex story""sex kahani in hindi""हिंदी सेक्स कहानियां""gay sex stories indian""brother sister sex story""new sexy story com""indian sex story""हिंदी सेक्सी स्टोरीज""sex xxx kahani"chodancom"hindi sexy stoey""hot gay sex stories""sexy hindi sex story""chikni choot""dewar bhabhi sex""biwi ko chudwaya""mousi ko choda""hot sex story""meri chut me land""marwadi aunties"