नौकरी पर ऑफिस गर्ल की गांड मारी

Nokri par office girl ki gaand mari

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम जेरी है और में पंजाब से हूँ, मेरी उम्र 27 साल है और में शादीशुदा हूँ. जो स्टोरी में आप लोगों से शेयर करने जा रहा हूँ, ये 3 महीने पहले की है जब मैंने नई-नई जॉब जॉइन की थी. मेरे ऑफिस में बहुत से लड़के लड़कियाँ काम करते थे, लेकिन एक लड़की रूबी जो कि 23 साल की होगी और वो मुझे बहुत अच्छी लगती थी, उसकी बॉडी बहुत ही सुन्दर थी और उसकी उम्र कम थी, लेकिन उसकी बॉडी किसी जवान 26-27 साल की लड़की से कम नहीं थी, उसका फिगर साईज़ 36-28-38 था, उसके गोल-गोल बूब्स और भरे हुए चूतड़ मुझे बहुत सुंदर लगते थे.

हमारी काफ़ी अच्छी दोस्ती हो गई थी और वो भी मुझमें इन्ट्रेस्ट लेती थी, वो हर बार मुझसे पूछती थी कि शादी के बाद लाईफ कैसी होती है. फिर एक दिन मैंने उससे पूछ ही लिया कि तुम अक्सर ऐसा क्यों पूछती हो? तब वो बोली कि मुझे शादीशुदा आदमी बहुत पसंद है, शुरू में तो में उसका चेहरा देखता रह गया. फिर मैंने रात को घर आकर उसको मैसेज किया कि में सब बताऊंगा कि शादी के बाद क्या होता है? लेकिन उसके लिए हमें किसी ऐसी जगह पर जाना होगा जहाँ हमारे अलावा कोई ना हो.

फिर अगले दिन उसने मुझे बताया कि उसकी फ्रेंड उसी शहर में पढाई करती है और वो वहाँ किराये के रूम में रहती है तो उसने वहाँ मिलने का प्लान बना लिया. फिर हम लोग ऑफिस से निकलकर वहाँ गये और वहाँ पहुँचकर हम सोफे पर बैठ गये. फिर मैंने उसके हाथ पर अपना हाथ रख दिया. फिर उसने हाथ पीछे करके कहा कि में पानी लाती हूँ. मेरा तो मन उसकी सेक्सी गांड चूमने को कर रहा था और जैसे ही वो किचन से पानी लेकर सामने आई तो मैंने बैठे-बैठे ही उसकी नाभि पर हग कर लिया और उसकी गांड पर हाथ रखकर आई लव यू रूबी बोल दिया.

फिर उसने भी ग्लास साईड पर रखा और मेरे बालों में हाथ फेरने लगी. फिर मैंने उसके पेट पर कई किस की. फिर वो मुड़ गई. अब वो मेरे सामने उल्टी खड़ी थी और में सोफे पर बैठा था, उसकी गांड मेरे चेहरे के बिल्कुल सामने थी. फिर मैंने अपने हाथ की उँगलियाँ उसकी नाभि के आस पास फेरी और उसकी गांड में अपना चेहरा घुसाकर उसकी गांड को सूंघने लगा, वाह दोस्तों उसमें एक अजीब सा नशा था. फिर मैंने झट से उसकी सलवार को नीचे किया और उसकी पेंटी के ऊपर से ही उसकी गांड को चाटने लगा तो वो भी थोड़ा झुक गई और मेरे चेहरे को और अंदर अपने हाथ से घुसाने लगी. फिर मैंने उसकी पेंटी उतार दी, अब मेरे सामने उसकी लाल गांड और बड़े-बड़े कूल्हे थे. फिर मैंने उसके दोनों कूल्हों पर बहुत सारी किस की और अपनी जीभ उसकी गांड के छेद पर रगड़ने लगा. फिर रूबी को नशा सा चढ़ रहा था और वो भी अपने कूल्हें बार-बार मेरे मुँह पर रगड़ रही थी.

फिर उसने मुझे सोफे पर लेटा दिया और मेरे चेहरे पर आकर बैठ गई. फिर उसने अपना कुर्ता भी उतार दिया था, अब वो सिर्फ़ ब्रा में थी और वो जैसे ही मेरे चेहरे पर बैठी तो उसकी गीली चूत मेरे होठों पर टच हो गई. वो अपने हाथों से अपने बूब्स को दबा रही थी और में पागलों की तरह उसकी चूत चाट रहा था, उसकी चूत से एक अलग ही स्वाद वाला पानी निकल रहा था और जिसने मेरे सारे होंठो को गीला कर दिया था. वो सिसकियां ले रही थी और बोल रही थी, ऊओह्ह्ह्ह जान और चूसो मेरी चूत को हमम्म्म बहुत मज़ा आ रहा है, अपनी पूरी जीभ मेरी चूत में डाल दो जानू. फिर करीब 15 मिनट तक उसकी चूत चाटने के बाद वो झड़ गई और उसने पानी छोड़ दिया. फिर मैंने उसकी चूत का सारा पानी पी लिया, मुझे ऐसा स्वाद कभी नहीं आया था.

फिर वो सोफे पर जाकर लेट गई, मेरा लंड पेंट के अंदर फनफना रहा था. फिर जैसे ही मैंने पेंट और अंडरवियर खोला तो मेरा 7 इंच लंबा और 3 इंच मोटा लंड एक झटके से बाहर आकर सलामी देने लगा. मेरा खड़ा लंड देखकर रूबी की आँखो में नशा छा गया, उसने झट से मेरे लंड को पकड़ा और बोली वाह तुम्हारा कितना मोटा और जबरदस्त हथियार है, वो कहने लगी कि उसने पहले कभी इतना सेक्सी गोरा लंड नहीं देखा है. ये बोलने के बाद वो मेरे लंड के टोपे को चूसने लगी और जहाँ से थोड़ा-थोड़ा पानी निकल रहा था, वो मेरा लंड पूरी तरह चूस रही थी और मेरी आँखें बंद थी और में जन्नत में था, में शादीशुदा होने की वजह से इतनी जल्दी झड़ने वाला नहीं था.

फिर 20 मिनट तक मेरे लंड को चूसने के बाद रूबी बोली कि बस अब और सहन नहीं हो रहा है और जल्दी से ये शेर मेरी गुफा में डाल दो और ये बोलने के बाद वो सोफे पर अपने दोनों पैर खोलकर बैठ गई और अपने हाथ से अपनी चूत को रगड़ने लगी.

फिर मैंने उसके दोनों पैर उठाये और अपने कंधो पर रख दिए, मेरा लंड अब बिल्कुल उसकी चूत के मुँह पर था और फिर मैंने धीरे से धक्का मारा और मेरा टोपे वाला हिस्सा उसकी चूत में चला गया तो उसके मुँह से चीख निकली और उसने कहा कि बाहर निकाल लो नहीं तो में मर जाउंगी, बहुत दर्द हो रहा है. फिर मैंने कहाँ कि जान बस 2 सेकेंड की बात है और इसके बाद तुम्हें भी मज़ा आयेगा. फिर मैंने हिम्मत करके एक और जोरदार झटका मारा और पूरा लंड फिसलकर उसकी चूत में चला गया आह्ह्ह्ह में मर गई उसके मुँह से निकला, वैसे थोड़ा सा दर्द मुझे भी हुआ था, क्योंकि वो अभी कुंवारी थी और उसकी चूत बहुत टाईट थी.

यह कहानी आप uralstroygroup.ru में पढ़ रहें हैं।

फिर मैंने धीरे-धीरे आगे पीछे करना शुरू किया और अब वो भी मेरा साथ दे रही थी और अपने कूल्हें ऊपर नीचे उठा रही थी. फिर 5 मिनट के बाद में ज़ोर-ज़ोर से उसकी चूत में लंड आगे पीछे कर रहा था और वो अपने दोनों बूब्स को ज़ोर-ज़ोर से दबाकर बोल रही थी कि और ज़ोर से, फाड़ दो आज इसे, बहुत मज़ा आ रहा है और चोदो मुझे, बस चोदते रहो. फिर 10 मिनट तक चोदने के बाद वो झड़ गई और उसके साथ ही मैंने भी अपनी गर्म पिचकारी उसकी चूत में ही छोड़ दी.

फिर में भी सोफे पर गिर गया और फिर उसने मुझे ज़ोर से हग कर लिया और बोलने लगी कि थैंक्स जान, आज तुमने मेरा सपना पूरा कर दिया है. फिर 30 मिनट के बाद मैंने और रूबी ने वॉशरूम जाकर खुद को साफ किया, लेकिन मेरा मन तो अभी भी उसकी गांड मारने का था. मैंने फिर से उसे डॉगी स्टाईल में लेटाया और उसकी गांड के छेद को खोलकर उसमें अपनी जीभ डाल दी, उसकी गर्म और सॉफ्ट गांड चाटने में एक अजीब सा मज़ा आ रहा था. अब में अपनी जीभ उसकी गांड में घुसा रहा था और मेरा लंड फिर से आसमान को छू रहा था.

मैंने अपने लंड पर तेल लगाया और उसकी गांड पर भी काफ़ी तेल लगा दिया, पहले तो उसने माना किया, लेकिन फिर मैंने लंड दिखाकर उसे मना लिया. फिर मैंने धीरे से धक्का मारकर थोड़ा सा लंड उसकी गांड में घुसाया, उसकी तो जैसे आँखो से पानी ही आ गया. फिर वो बोली कि प्लीज पीछे से मत करो तो में कहाँ रुकने वाला था.

फिर मैंने लंड बाहर निकाला और उसकी गांड पर रगड़ना शुरू कर दिया, अब वो भी लंड की रगड़ से गांड फुलाने लगी थी और अया आआहह की आवाज़े निकाल रही थी और खुद ही बोली कि आज मेरी गांड फाड़ दो. फिर मैंने उसके दोनों कुल्हों को खोला और उसकी गांड के छेद में लंड डालने लगा. फिर 3-4 झटको में मेरा लंड उसकी गांड की गहराई को छू रहा था, वाह उसकी गांड में बहुत गर्मी थी. रूबी अब मेरा साथ दे रही थी और गांड को आगे पीछे कर रही थी, में ज़ोर-ज़ोर से उसकी गांड में लंड अंदर बाहर कर रहा था. फिर 10 मिनट तक गांड चोदने के बाद मैंने लंड बाहर निकाला और उसको सीधा करके उसके चेहरे पर पिचकारी दे मारी. अब रूबी ने मेरा लंड पकड़ा और मुँह में लेकर पूरा लंड चूस डाला, उस दिन हम दोनों ने एक दूसरे को खूब संतुष्ट किया. अब हम उसकी फ्रेंड के घर पर हफ्ते में 2-3 बार सेक्स करते है.

धन्यवाद …



mastaram"hindi sex story with photo""kamukta new""chut ka mja"freesexstory"sec stories""saas ki chudai""sexy hindi stories""husband wife sex story""sex stories incest"indainsex"sex with sali""saali ki chudai""baap aur beti ki chudai""saxy story com""erotic stories indian""sexy gaand""ma beta sex story hindi""hot hindi sex story""hindi chudai photo""hot bhabhi stories""desi sex hindi""sex indain""kajal ki nangi tasveer""hindi chudai kahani""hinde sexy storey""forced sex story""bahan ki chut""mami k sath sex""hindi sexy storu""maa bete ki chudai""bade miya chote miya""sexy indian stories""हिंदी सेक्स कहानियां""sexy storis in hindi""hot doctor sex""real hindi sex stories"mastaram"chachi ki chudae""mastram ki sex kahaniya""hindi sexy hot kahani""indian hindi sex stories""indian hot sex story"sex.stories"desi sex hindi""बहन की चुदाई""hot suhagraat""sex kathakal""dost ki didi""kamukta com in hindi""kamukta kahani""bhen ki chodai""beti ko choda""सेक्स स्टोरी इन हिंदी""aunty ki chudai hindi story"phuddi"indian sex srories"sexstoriessexstories"kamvasna khani""aex stories""sex hindi stories""सेक्सि कहानी""bahen ki chudai ki khani""sexi khaniya""randi chudai""indian sexchat""kamukata sexy story""chodan hindi kahani""hot sexy stories""sex khani""bihari chut"